Tagged: Novice Hindi poems

मरना 0

मरना

मरना आदमी मरने के बाद कुछ नहीं सोचता … आदमी मरने के बाद कुछ नहीं बोलता … कुछ नहीं सोचने और कुछ नहीं बोलने पर आदमी मर जाता है…! ~उदय प्रकाश पचास कविताएँ नयी...